एक या एक से अधिक लक्ष्यों को हासिल करने के लिए कार्यरत इकाईयों के समूह को एक प्रणाली (system) कहते हैं। जैसे- अस्पताल एक प्रणाली है, जिसको विभिन्न इकाईयाँ (भाग) है - डॉक्टर, नर्स, चिकित्सा के उपकरण, ऑपरेशन थियेटर, मरीज आदि तथा इसका लक्ष्य है
मरीजों की सेवा व चिकित्सा। इसी तरह कम्प्यूटर यूजर और सॉफ्टवेयर के साथ मिलकर एक प्रणाली के रूप में कार्य करता है, जिसे कम्प्यूटर
प्रणाली कहते हैं।
कम्प्यूटर क्या है ? कम्प्यूटर सिस्टम में कौन-कौन से बेसिक components होते हैं? वे कैसे कार्य करते हैं?
कम्प्यूटर क्या है ? कम्प्यूटर सिस्टम में कौन-कौन से बेसिक components होते हैं? वे कैसे कार्य करते हैं?


 कम्प्यूटर सिस्टम के विभिन्न माउस, की-बोर्ड, मॉनीटर, सिस्टम यूनिट आदि आपस में जुड़े होते हैं तथा मिल-जुलकर कार्य करते


कम्प्यूटर की इकाईयाँ (भाग) [Parts of Computer)

कम्प्यूटर हार्डवेयर

कम्प्यूटर हार्डवेयरफ कम्प्यूटर के यांत्रिक, वैद्युत तथा इलेक्ट्रॉनिक भाग कम्प्यूटर हार्डवेयर कहलाते हैं। दूसरे शब्दों में हम कह सकते हैं कि कम्प्यूटर सिस्टम की वह इकाई जिन्हें देखा जा सकता हो व स्पर्श किया जा सकता हो, कम्प्यूटर हार्डवेयर कहते हैं। जैसे कि की बोर्ड, मॉनीटर आदि।

एक कम्प्यूटर सिस्टम में इनपुट, आउटपुट डिवाइसेज, स्टोरेज, प्रोसेसिंग व कन्ट्रोल डिवाइसेज हार्डवेयर कहलाते हैं।


सेन्ट्रल प्रोसेसिंग यूनिट (CPU) 

 CPU computer का मस्तिष्क होता है। इसका मुख्य कार्य प्रोग्राम्स को एग्जिक्यूट करना है। इसके अलावा कम्प्यूटर
सभी भागों, जैसे- मेमोरी, इनपुट और आउटपुट डिवाइसेज के कार्यों को भी नियंत्रित करता है। प्रोग्राम और डाटा इसके नियंत्रण में मेमोरी में स्टोर होते हैं।

इसी के नियंत्रण में आउटपुट स्क्रीन पर दिखाई देता है या प्रिंटर के द्वारा कागज पर प्रिन्ट होता है। CPU को पुनः तीन भागों में बांटा जा सकता है-
1) कन्ट्रोल यूनिट (CU)
2) अर्थमैटिक तथा लॉजिकल यूनिट (ALU)
3) मेमोरी यूनिट (MU)

(1) कन्ट्रोल यूनिट (Control Unit) + CU कम्प्यूटर के इंटरनल ऑपरेशन्स को कन्ट्रोल करता है। यह हार्डवेयर, इनपुट-आउटपुट ऑपरेशन्स
आदि को नियंत्रित करता है तथा साथ ही मेमोरी और ALU के मध्य डाटा के आदान प्रदान को भी निर्देशित करता है।

(2) अर्थमैटिक तथा लॉजिक यूनिट (Arithmetic and Logical Unit)  इसे ALU भी कहते हैं। इस यूनिट का कार्य डाटा पर अंकगणितीय
क्रियायें (जोड़, गुणा, भाग) और तार्किक क्रियायें (Logical Operations) आदि परफॉर्म करना है। ALU, कन्ट्रोल यूनिट से निर्देश लेता है। यह
मेमोरी से डाटा को प्राप्त करता है तथा प्रोसेसिंग के पश्चात् सूचना को मेमोरी में लौटा देता है।

(3) मेमोरी यूनिट (Memory Unit)  मेमोरी डाटा, निर्देशों और परिणामों के आउटपुट को स्टोर करती है। यह कम्प्यूटर का महत्वपर्ण भाग है,
जहाँ डाटा तथा प्रोग्राम, प्रक्रिया के दौरान स्थित रहते हैं और आवश्यकता पड़ने पर तुरन्त उपलब्ध होते हैं। इसे मेन मेमोरी या प्राथमिक स्टोरेज भी
कहते हैं। मेन मेमोरी की क्षमता 4MB से 256MB या इससे भी ज्यादा हो सकती है।

पेरिफेरल्सफ


पेरिफेरल्सफ इनपुट, डिवाइसेज, आउटपुट डिवाइसेज, सैकण्डरी स्टोरेज आदि को पेरिफेरल्स कहते हैं।

1) इनपुट डिवाइसेजप वे डिवाइसेज, जिनकी सहायता से हम कम्प्यूटर के अन्दर डाटा तथा इन्स्ट्रक्शन्स एन्टर कहते हैं, इनपुट डिवाइसेज (Input
Devices) कहलाती हैं।
 इनपुट डिवाइसेज कम्प्यूटर एवं यूजर के मध्य कम्यूनिकेशन की सुविधा प्रदान करते हैं। इनपुट डिवाइसेज के कुछ
(ii) माउस
(iii) जॉयस्टिक
(v) लाइटपेन
(iv) रचस्क्रीन
(vii) ग्राफिक टेबलेट
प्रमुख उदाहरण हैं
(i) की-बोर्ड
(iv) ट्रैकबॉल
(viii) स्कैनर

(2) आउटपुट डिवाइसेज आउटपुट डिवाइसेज के द्वारा कम्प्यूटर से प्राप्त परिणामों को प्राप्त किया जाता है। इन परिणामों को ज्यादातर डिस्प्ले
डिवाइसेज अथवा प्रिंटर के द्वारा यूजर को प्रस्तुत किया जाता है।

 आउटपुट डिवाइसेज के कुछ प्रमुख उदाहरण हैं -
 (1) मॉनीटर
(ii) प्रिंटर
(iii) स्पीकर

सॉफ्टवेयर


सॉफ्टवेयर सॉफ्टवेयर प्रोग्राम्स का समूह होता है जिसे हम कम्प्यूटर से किसी कार्य को पूरा कराने हेतु उपयोग करते हैं। प्रोग्राम इन्स्ट्रक्शन्स का
समूह होता है। इन्हें आप छू नहीं सकते। कम्प्यूटर सॉफ्टवेयर यूजर और हार्डवेयर के मध्य कम्यूनिकेशन स्थापित करता है।


कम्प्यूटर सॉफ्टवेयर निम्नलिखित प्रकार के होते हैं.
a) सिस्टम सॉफ्टवेयर जैसे ऑपरेटिंग सिस्टम
b) एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर जैसे- MS वर्ड
c) यूटिलिटी सॉफ्टवेयर





Post a Comment

أحدث أقدم